भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

कँगूरन

पुं. (बहु.)

शिखर, चोटी।
Discription with Examples: स्रवनन सुनत रहत जाको नित सो दरसन भये नैन। कंचन कोट कँगूरन की छबि मानहु बैठे मैन – २५५६।
Category: संज्ञा
Etamology: [हिं. कँगूरा]

कँगूरा

पुं.

शिखर, चोटी।
Category: संज्ञा
Etamology: [फा. कुँगरा]

कँगूरा

पुं.

किले का बुर्ज।
Category: संज्ञा
Etamology: [फा. कुँगरा]

कँगूरा

पुं.

गहनों में शिखर की तरह की बनावट।
Category: संज्ञा
Etamology: [फा. कुँगरा]

कंघा

स्त्री.

बाल झाड़ने की वस्तु।
Category: संज्ञा
Etamology: [सं. कंक]

कंच

पुं.

शीशा, काँच।
Category: संज्ञा
Etamology: [हिं. काँच]

कंचन

पुं.

सोना, स्वर्ण।
Category: संज्ञा
Etamology: [सं. कांचन]

कंचन

पुं.

धन, संपत्ति।
Category: संज्ञा
Etamology: [सं. कांचन]

कंचन

पुं.

धतूरा।
Category: संज्ञा
Etamology: [सं. कांचन]

कंचन

स्वस्थ।
Category: वि.

कंचन

सुन्दर।
Category: वि.

कंचनराज

पुं.

एक प्राचीन नगर जो विदर्भ देश में था। यहाँ भीष्मक राज करते थे, जिनकी पुत्री रुक्मिणी को श्रीकृष्ण हर ले गये थे।
Discription with Examples: कंचनराज को काज सँवारयौ भूपन को यह काज १० उ.-१०८।
Category: संज्ञा
Etamology: [सं.]

कंचनी

स्त्री.

वेश्या।
Category: संज्ञा
Etamology: [सं. कंचन]

कंचनी

स्त्री.

अप्सरा।
Category: संज्ञा
Etamology: [सं. कंचन]

कंचुक

पुं.

चपकन, अचकन।
Category: संज्ञा
Etamology: [सं]

कंचुक

पुं.

वस्त्र।
Category: संज्ञा
Etamology: [सं]

कंचुक

पुं.

एक प्रकार का कवच जो घुटने तक होता था।
Category: संज्ञा
Etamology: [सं]

कंचुक

स्त्री.

चोली, अँगिया।
Category: संज्ञा

कंचुक

स्त्री.

केचुल।
Category: संज्ञा

कंचुकि, कंचुकी

स्त्री.

अँगिया, चोली।
Discription with Examples: (क) कसि कंचुकि, तिलक लिलार, सोभित हार हियै-१०-१४।(ख) कोउ केसरि कौ तिलक बनावति, कोउ पहिरति कंचुकी सरीर – १०-३५। (ग) कबहिं गुपाल कंचुकि फारी, कब भये ऐसे जोग–७७४। (घ) कनक-कलस कुच प्रकट देखियत आनन्द कंचुकि भूली – २५६१।
Category: संज्ञा
Etamology: [सं. कंचुकी]

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App