भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Management Science (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

< previous12Next >

Occupational structure

व्यावसायिक संरचना
विभिन्न प्रकार के उत्पादक कार्यों का ऐसा वर्गीकरण जो नौकरियों की मात्रा तथा उनका कार्य स्थलों, कंपनियों, उद्योगों, प्रदेशों तथा समूची अर्थव्यवस्था के आधार पर वितरण प्रस्तुत करता हैं ।

Office management

कार्यालय प्रबंध
किसी भी प्रतिष्ठान में कार्यालय प्रबंध एक सेवा प्रकार्य होता है । इसके अंतर्गत सब प्रकार के लिपिकीय कार्यों तथा तत्संबंधी कार्मिकों का पर्यवेक्षण, टेलीफोन, डाक तार वितरण, आशुलिपिकों और मिसिलों का पर्यवेक्षण, कार्यालय संयंत्र सज्जा का निश्चितीकरण तथा भौतिक अभिन्यास, विद्युतीकरण एवं उपस्कर व्यवस्था आदि का नियंत्रण सम्मिलित है ।

Office personnel

कार्यालय कार्मिक
कार्यालय संबंधी सब प्रकार की क्रियाओं को सम्पन्न करने वाले कर्मचारी कार्यालय कार्मिक की श्रेणी में रखे जाते है । उत्पादन और विक्रय कार्मिकों की अपेक्षा इनका पर्यवेक्षण थोड़ा भिन्न होता है क्योंकि इन्हें समय-गति अध्ययन जैसे पर्यवेक्षणीय उपायों के अधीन सुगमता से नहीं लाया जा सकता। साथ ही साथ ऐसे कार्मिकों की भर्ती, नियुक्ति, प्रशिक्षण इत्यादि की मूल प्रक्रियाएँ सामान्य प्रशासन का ही अभिन्न अंग होती हैं ।

Operating budget

प्रचालन बजट
चालू आय तथा व्ययों के किसी निर्धारित भावी अवधि से संबंधित अनुमान दर्शाने वाला विवरण प्रचालन बजट कहलाता है । यह अल्पकालिक वित्तीय आयोजन का आधार होता है । इसे कभी-कभी दैनिक कार्यकलापों के परिणामात्मक स्वरूप में भी प्रस्तुत किया जाता है और तब इस विवरण के माध्यम से प्रतिष्ठान की भौतिक क्षमताओं तथा भौतिक आगत और उत्पादों का एक निश्चित कार्यकाल के लिए विवरण तैयार किया जाता है । ऐसा बजट प्रतिष्ठान की अल्पकालीन कार्ययोजना का रूप ग्रहण करता है ।

Operating company

प्रचालन कंपनी
वह कंपनी जो एक या एक से अधिक प्रकार के व्यापारिक कार्यों का निष्पादन करती है । यह उन कंपनियों से भिन्न होती है जिन्होंने अपनी परिसंपत्तियों को वित्तीय निवेशों तथा पट्टों में परिवर्तित कर लिया है और जिनके सभी कार्यकलाप वित्तीय व्यवहार ही होते है ।

Operating cost

प्रचालन-लागत, प्रचालन-व्यय
(अ) (लागत लेखा) – ऐसे खर्चे जो किसी उद्योग अथवा व्यवसाय के मुख्य कार्यकलापों को चलाने के लिए करने आवश्यक है । अतः इसमें न केवल वस्तुओं अथवा सेवाओं के उत्पादन पर होने वाले खर्चे शामिल होते है अपितु अन्य व्यावसायिक उपरिव्यय भी शामिल किए जाते हैं ।
(आ) (परिवहन) – यानों को चलाने का खर्च ।

Operating leverage

प्रचालन उत्तोलक
कर और ब्याज पूर्व आय की विक्रय के साथ व्यक्त अनुपात में परिवर्तित होने की प्रवृत्ति । जैसे-जैसे स्थिर लागतों का कुल लागतों के साथ अनुपात बढ़ता चला जाता है वैसे-वैसे प्रचालन उत्तोलक भी बढ़ता चला जाता है क्योंकि ऐसी दशा में विक्रय में परिवर्तन निवल आय में अधिक भारी परिवर्तन उत्पन्न करते हैं । प्रचालन उत्तोलक ऊँचे प्रचालन वाले प्रतिष्ठान तथा गठन पूंजी निवेश वाले प्रतिष्ठान भी होते हैं ।

Operating profit/ (loss)

प्रचालन लाभ/ (हानि)
किसी भी प्रतिष्ठान के सकल लाभ तथा परिचालन लागतों का अंतर । ऐसे अंतर को परिचालन आगम भी कहा जाता है और इसका स्रोत नियमित व्यापारिक कार्यकलाप हुआ करते हैं । इस रूप में परिचालन लाभ में अन्य व्यापार में किए निवेशों पर अर्जित लाभ, प्रदत्त ऋणों पर कमाया गया ब्याज, प्रतिष्ठान की परिसंपत्तियों के अन्य पक्षकारों द्वारा प्रयोग पर अर्जित भाड़ों आदि को सम्मिलित नहीं किया जाता ।

Operating ratio

प्रचालन अनुपात
वित्तीय विश्लेषण के क्षेत्र में प्रयोग किया जाने वाला एक ऐसा सामान्य अनुपात जोकि किसी प्रतिष्ठान के आय विवरण के विभिन्न मदों को विक्रय के आधार पर मापता है । इसका उद्देश्य कंपनी की सफलता का मूल्यांकन करना होता है । उल्लेखनीय है कि कभी-कभी इस उद्देश्य की प्राप्ति प्रति अंश आय और बहुत से अन्य प्रकारों से भी की जाती हैं । इन अनुपातों की गणना कंपनियों में धन निवेश करने वाले निवेशकर्ताओं/ विनियोजकों द्वारा की जाती हैं ।

Operational audit (=internal audit)

प्रचालन लेखापरीक्षा, आंतरिक लेखापरीक्षा
देo internal audit.

Operations research

संक्रिया विज्ञान, संक्रियात्मक प्रविधि
किसी भी व्यापारिक, सरकारी, अथवा अन्य प्रकार के प्रतिष्ठानों के संबंध में आने वाली समस्याओं का परिमाणात्मक हल प्रस्तुत करने वाली प्रविधि । इसके द्वारा निर्णयकर्त्ता एक विवेकपूर्ण विधि से अनेक उपलब्ध विकल्पों में से इष्टतम विकल्प चुनता है । इस निर्णयन प्रक्रिया के साथ अनेक गणितीय तथा इंजीनियरी तकनीकें जुड़ी हुई हैं जैसे बेसियन प्रमेय सिद्धांत, गेम सिद्धांत, आगत-निर्गत विश्लेषण, रेखिक तथा गणितीय प्रोग्रामिंग, पंक्ति सिद्धांत, तर्ट तथा मोटे काले अनुरूपण इत्यादि । इसका प्रयोग पद्धति विश्लेषण के संदर्भ में भी किया जाता हैं ।

Opinion leaders

अभिमत अग्रणी
ये वे व्यक्ति होते है जो किसी दी स्थिति में अपने एक जाने पहचाने समूह पर व्यक्तिगत प्रभाव रखते हैं । किसी व्यापारिक प्रतिष्ठान का जब ऐसे समूह को उत्पाद का विक्रय करने का प्रश्न उत्पन्न होता है तो वे अभिमत अग्रणियों की खोज प्रारंभ कर देती है । प्रायः ऐसे व्यक्तियों की राय समूचे समूह की राय होती है और फर्म को अपने प्रवर्तन समूह के प्रत्येक व्यक्ति तक पहुँचाने की आवश्यकता नहीं रहती । ऐसा विशेषत उस समय किया जाता है जबकि फर्म एक पूर्व निर्धारित समय पर पदार्थ को बाज़ार में उतारना चाहती है और उसके पूर्व वह पदार्थ की स्वीकृति के संबंध में आश्वस्त होना चाहती है । यद्यपि अभिमत अग्रणी फर्म की दृष्टि से एक बहुत लाभकारी भूमिका निभाते हैं इन्हें ढूँढना और इनकी पहचान करना प्रायः कठिन कार्य होता हैं ।

Optimum firm

इष्टतम प्रतिष्ठान
वह फर्म जिसका उत्पादन उस सीमा तक पहुँच गया है कि प्रति इकाई उत्पादन लागत निम्नतम है । वह फर्म केवल लागत के आधार पर न तो उत्पादन बढ़ाना चाहेगी और न ही घटाना क्योंकि इन दोनों ही स्थितियों में उत्पादन लागत बढ़ जाएगी । ऐसी फर्म का मात्र सैद्धांतिक महत्व हैं ।

Ordinal utility

क्रमसूचक उपयोगिता
उपभोग से प्राप्त उपयोगिता दो प्रकार की इकाईयों में मापी जा सकती है । ऐसे मापन का एक रूप विशिष्ट संख्याएँ जैसे 1, 2, 3, 4, 10 … और दूसरा प्रकार किसी श्रृंखला में विशिष्ट स्थिति जैसे प्रथम, द्वितीय … हो सकता हैं । उपयोगिता को मापने की यह दूसरी विधि क्रमसूचक मापनी पर की जाती है और माप की इन इकाइयों के आधार पर जो उपयोगिता की मात्रा उपलब्ध होती है उसे क्रमसूचक उपयोगिता कहते हैं ।

Organizational goal

संगठनात्मक उद्देश्य
वह लक्ष्य या स्थिति जिस तक पहुँचने का संगठन प्रयास करता है । किसी भी प्रतिष्ठान के आयोजन प्रयासों में ऐसे उद्देश्यों को निश्चित रूप से व्यक्त किया जाना नियंत्रण एवं मूल्यांकन के लिए अनिवार्य होता हैं ।

Organization and methods (O & M)

संगठन और पद्धतियाँ (ओo एंड एमo)
किसी कंपनी या अन्य प्रकार के संगठन के परिचालन की विधियों का व्यवस्थित विश्लेषण । ऐसे विश्लेषणों का क्षेत्र प्रायः व्यापक होता है और लिपिकीय पद्धतियों से लेकर प्रबंध संरचना तक के पहलुओं को समाविष्ट करता हैं । व्यवहार में ओo एंड एमo (संगठन और पद्धतियाँ) प्रायः पद्धति अध्ययन की एक प्रयुक्ति होती है । इसके अंतर्गत कार्यालय की क्रिया विधियों में कार्यमापन की तकनीकों का प्रयोग भी सम्मिलित होता है । आज यह प्रबंधीय विश्लेषण प्रचालन अनुसंधान के रूप में विकसित हो रहा है ।

Organization chart

संगठन चार्ट, व्यवस्था चार्ट
किसी भी प्रतिष्ठान की प्रकार्यात्मक संबंध श्रृंखलाओं की चार्ट के रूप में रेखात्मक अभिव्यक्ति । ऐसे चित्र संगठन के अधिकार एवं उत्तरदायित्वों के प्रवाह का विहंगम रूप प्रस्तुत करते हैं । प्रतिष्ठान के सभी प्रमुख विभागों, अधिकारियों तथा कार्यपालकों के परस्पर संबंधों को रेखाओं द्वारा जोड़ कर प्रदर्शित किया जाता हैं ।

Organization development

संगठन विकास
एक विषम शैक्षणिक कार्यनीति जिसका उद्देश्य संस्था के विश्वासों, प्रवृत्तियों, मूल्यों तथा संरचना को इस प्रकार बदलना है जिससे संगठन नई तकनीकों, बाज़ारों और चुनौतियों के अनुरूप अपने आप को ढाल सके ।

Organization pyramiding

संगठन पिरामिडीकरण
साधारण तौर पर संगठनों का विकास लंबवत् होता रहता है । जैसे एक उच्च प्रबंधक के अधीन दो या दो से अधिक सहायक प्रबंधक होते हैं और प्रत्येक सहायक प्रबंधक के अधीन भी दो या दो से अधिक सह-सहायक प्रबंधक होते हैं । इसी प्रकार संगठन में निचले तलों पर अनेक स्तर बनते रहते हैं जिनमें प्रत्येक स्तर पर अधिकाधिक व्यक्ति शामिल होते हैं ।

Organized sector

संगठित क्षेत्र
किसी भी देश के औद्योगिक क्षेत्रक का वह भाग जो संगठित संस्थाओं एवं सार्वजनिक स्वामित्व के आधार पर स्थापित होता है । प्रायः बड़ी मात्रा के कल-कारखाने जो जनसाधारण से पूंजी जुटाकर स्थापित किए जाते हैं । संगठित क्षेत्र के रूप में मान्यता प्राप्त करते हैं । इस क्षेत्र की वे संस्थाएँ जो इसे संगठित रूप प्रदान करती हैं व्यवस्थित श्रम संघ, कर्मचारी संघ, वाणिज्य संघ, वाणिज्य मंडल, निर्माता संघ इत्यादि होती हैं । क़ानून और प्रशासन भी एक नियमित तथा व्यवस्थित रूप से संघठित क्षेत्र को नियंत्रित करता हैं ।
< previous12Next >

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App