भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Palaeobotany Definitional Dictionary (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

Sclerenchyma

दृढ़ोतक
मोटी, लिग्निन युक्त कठोर कोशिकाओं वाला ऊतक, जो पौधे को सहारा देता है। इसमें लम्बी गावदुम कोशिकाएँ (रेशे) तथा कोशिकाएँ (स्केलेरीड) होती हैं।

Sclerine

दृढ़ाइन, स्कलेराइन
बिना अंतश्चोल (इन्टाइन) का स्पोरोडर्म।

Sclerotesta

दृढ़ बीज कवच
बीजाण्ड के तीन कवच स्तरों में से बिचली परत, जो दृढ़ होती है।

Scolecopteris

स्कोलीकॉप्टेरिस
संवहनी पादपों के फिलिकॉप्सिड़ा वर्ग के मेरेटिएलीज़ गण का एक अनंतिम वंश। कार्बनी युग की इन संबीजाणुधानियों में बीजाणुधानियों का चक्र पार्श्व में लगा होता है।

Sculpatomonoleti

स्कल्पैटोमोनालेटी
परागाणु अधोप्रभाग जिसमें वे परागाणु सम्मिलित हैं जिनमें त्रिअर चिन्ह होता है तथा बाह्यचोल (एक्साइन) अलंकारयुक्त होता है। उदा. ऐरारट्राइस्पोराइटीज़

Sculptine

अलंकृत चोल, स्कल्पटाइन
परागाणु का अलंकुत चोल जिसके बारे में यह निर्धारण न हो पाए कि वह एक्साइन है या पेराइन।

Sculptura

अलंकारादि
परागाणु बाह्यचोल (एक्साइ) पर अंकित ज्यामितीय आकृतियाँ जो संरचना, से सम्बद्ध न होते हुए भी पहिचान करने में सहायक होती हैं।

Scutulati

स्कूटुलाटी
परागाणु उप अधोप्रभाग जिसमें वे परागाणु सम्मिलित हैं जिनके बाह्यचोल (एक्साइन) में स्कुटेलम होते हैं।

Scutum

स्कूटम
संवहनी पादपों के जिम्नोस्पर्मोप्सिड़ा वर्ग के ग्लॉसोप्टेरिडेलीज़ गण का एक अनंतिम वंश। पर्मियन युग की ये बीजाण्डी संरचनाएँ ढाल के आकार की होती हैं।

Secondary Vein(s)

द्वितीयक शिरा (एँ)
प्राथमिक शिरा से निकलने वाली शिराएँ। इनके अपसरण-कोण तथा मोटाई में काफी विविधता होती है।

Sediment

अवसाद
भूपृष्ठ पर ठोस अवस्था में निक्षिप्त जैव या खनिज पदार्थ। यह भूपृष्ठ पर हवा, पानी या हिम द्वारा लाया जाता हैं।

Sedimentary

अवसादी
1. अवसाद सम्बंधी या अवसाद मय।

Sedimentation

अवसादन
भूपृष्ठ पर जैव या खनिज पदार्थों के निक्षिप्त होने की क्रिया। इसमें उस पदार्थ के शैल से विलग होने, उसके स्थानान्तरण, निक्षेप तथा निक्षेप होने के उपरान्त होने वाली क्रियाएँ (जैसे कठोरीकरण) आदि सभी शामिल हैं।

Seed

बीज
बीजाण्ड के निषेचन के फलस्वरूप विकसित संरचना जिसके अंकुरण से नया पौधा बनता है। इसमें एक भ्रूण, भ्रण पोष तथा कवच (इंटेगुमेन्ट) होते हैं। पुरातनतम बीज डिवोनियन युग से प्राप्त हुए हैं तथा कार्बनी युग तक बीज बनने की प्रक्रिया सुस्थापित हो चुकी थी।

Seed bearing

बीजधारी
(पादप) जिनमें बीज उत्पन्न होते हैं अर्थात् लघु बीजाणु निषेचन से पूर्व बाहर नहीं निकलता।

Seed fern

बीजी पर्णांग
= Pteridosperm

Selaginellales

सेलाजिनेलेलीज़
संवहनी पादपों के लाइकॉपप्सिडा वर्ग का एक गण। ये पौधे कार्बनी युग में उपजे तथा कुछ प्रतिनिधि आज भी विद्यमान हैं। इन शाकों में लिग्यूलधारी सूक्ष्मपर्ण होते हैं।

Selaginellites

सेलाजिनेलाइटीज़
संवहनी पादपों के लाइकॉप्सिडा वर्ग के सेलाजिनेलेलीज़ गण का एक वंश। कार्बनी युग से आज तक के ये पौधे सेलाजिनेला के अश्मीभूत प्रतिनिधि हैं।

Selective preservation

चयनात्मक परिरक्षण
जीवाश्मीभवन प्रक्रिया में कुछ ऊतकों का दूसरों की अपेक्षा अधिक परिरक्षित हो जाना।

Semicraspedodromous

अर्ध आकोरगामी
(शिरा विन्यास) जिसमें द्वितीयक शिराएँ कोर तक पहुँचने के कुछ पूर्व विभाजित हो जाती हैं। एक शाखा कोर तक पहुँचती है तथा इसकी ऊपर की द्वितीयक शिरा से जुड़ जाती है।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App