भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Palaeobotany Definitional Dictionary (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

Homospore

सामबीजाणु
=isospore

Homosporous

समबीजाणवी
एक ही प्रकार के बीजाणु उत्पन्न करने वाला। दे. Homospory

Homospory

समबीजाणुता
केवल एक प्रकार के बीजाणु उन्पन्न करने की अवस्था। यह लाइकॉप्सिड वर्ग के पुरातन सदस्यों में पाई जाती है।

Homoxylous

समदारुक
(दारु) जिसमें वाहिकाएँ नहीं होतीं।

Hornea

हॉर्निया
हार्नियोफाइटॉन का पुराना नाम।

Horneophyton

हॉर्नियोफाइटॉन
संवहनी पादपों के राइनिऑप्सिडा वर्ग का एक वंश। डिवोनियन युग के इन पादपों के नग्न अक्षों का शाखा विन्यास द्विशाखित होता है तथा वायव शाखाओं के सिरों पर शाखित बीजाणुधानियाँ होती हैं।

Horriditriletes

हॉरिडीट्राइलेइटीज़
परागाणु उप अधोप्रभाग बैकुलाटी का एक वंश।

Hostimella

हॉस्टिमेला
=Hostinella

Hostinella

हॉस्टिनेला
संवहनी पादपों के ट्राइमेरोफाइटॉप्सिडा वर्ग का एक अनंतिम वंश। डिवोनियन युग के ये अक्षखंड नग्न तथा द्विशाखित होते हैं।

Hydrofluoric acid method

हाइड्रोफ्लोरिक अम्ल विधि
स्थूल मसृणन (बल्क मैसीरेशन) की एक विधि जिसमें पादप खंड़ों को निकालने के लिए शैल को हाइड्रोफ्लोरिक अम्ल में डाल दिया जाता है।

Hyenia

हाईनिया
संवहनी पादपों के स्फीनॉप्सिडा वर्ग के हाईनिएलीज़ गण का एक वंश। डिवोनियन युग के इन पादपों के दृढ़ राइजोमों में खड़े अक्ष सर्पिलतः विन्यस्त होते हैं। दूरस्थ शाखाएँ उर्वर होती हैं जिनमें बीजाणुधानीधर मिलकर एक शिथिल शंकु बनाते हैं।

Hyeniales

हाईनिएलीज़
संवहनी पादपों के स्फीनॉप्सिडा वर्ग का एक गण। डिवोनियन युग के इन पादपों में राइज़ोमों से द्विशाखित अक्ष निकलते हैं और शिथिल शंकुओं में समबीजाण्वी बीजाणुधानियाँ लगी होती हैं। इस गण में दो वंश हाईनिया और कैलैमोफाइटॉन हैं जिन्हें कुछ आचार्य फिलिकॉप्सिड़ा वर्ग के क्लैडोज़ाइलेलीज़ के अन्तर्गत रखते हैं।

Hyphodromous

लुप्तशिराल
(शिरा विन्यास) जिसमें मध्य शिरा तो स्पष्ट होती है किन्तु गौण शिराएँ मांसल पर्ण में छिप सी जाती हैं।

Hypostomatic

अधोरन्ध्री
(पत्तियाँ) जिनकी निचली सतह पर रंध्र हो। उदा. स्यूडोक्टेनिस वंश की पत्तियाँ।

Hystrichosphere

हिस्ट्रिकोस्फीयर
प्लावी जीव जिन्हें शैवालों में रखा जाता है। साइल्यूरियन से आधुनिक युग तक के ये जीवाश्म सींग वाले सिस्ट हैं।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App