भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Petrology (English-Hindi)(CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

fissure

विदर :
शैलों में एक दरार, भंग या विभंग जिसमें उनकी दीवारें स्पष्ट रूप से अलग-अलग हो जाती हैं । विदर खनिज-पदार्थों से भरे जा सकते हैं परन्तु मूल दीवारें सीधे संपर्क में नहीं आती ।

fissure eruption

विदर उद्गार :
किसी दीर्घ दरार से उत्पन्न ज्वालामुखी उद्गार ।

fissure vein

विदर-शिरा :
विदर-शिरा एक वह सपाट अयस्क-पिंड है जो एक या अधिक विदरों को घेरे रहता है । इसकी दो विमाएं (dimensions) तीसरी से बहुत बड़ी होती है । विदर शिराएं सभी प्रकार के गुहिका-भरणों में सर्वाधिक महत्वपूर्ण हैं और विस्तृत रूप से पाई जाती हैं तथा उनसे अनेक प्रकार के खनिज और धातुएं उपलब्ध होती हैं, इनकी छः किस्में होती हैं-सरल, मिश्र, श्रृंखलित, चादरित, विस्फारित तथा कक्षमय, जिनमें से प्रत्येक संस्थूल या पर्पटित हो सकती है ।

flagstone

पटियाश्म, पटिया पत्थर :
पतले संस्तरों वाला प्रायः मृण्मय बलुआपत्थर ।

flaky structure

पत्रक संरचना :
कायान्तरित शैलों में विद्यमान एक संरचना जिसमें मुख्यतः माइका, क्लोराइट टाल्क इत्यादि पत्रक खनिज विकसित मिलते हैं ।

flaser bedding

रेखित संरचना :
बालू ऊर्मिकाओं के द्रोणी (trough) में पंक के वक्राकार लेन्सों द्वारा निर्मित असंतत मसूराकार रेखित संस्तरण ।

flaser structure

रेखित संरचना :
ऊमिका क्रॉस संस्तरण जिसमें द्रोणी में पंक प्ररेख (streaks) संरक्षित रहते हैं, किन्तु ये द्रोणी शीर्षों पर अपूर्ण रूप से अथवा बिल्कुल ही नहीं विकसित होते ।

flaser structure or texture

रेखित संरचना या गठन :
गतिक कायान्तरण द्वारा किसी शैल में लेन्साकार, परतदार, दानेदार खनिजों से निर्मित संरचनाएं, जिनकी आधात्री विरूपित एवं अतिविक्षत पदार्थों से बनी होती है और इसके कारण शैल में प्रवाही संरचना दिखाई पड़ती है ।

flexible sandstone

लचकदार बलुआपत्थर :
एक प्रकार का बलुआपत्थर जिसकी लचक क्वार्ट्ज कणों के अन्तःग्रथन (interlocking) के कारण होती है । यह इटेकोलुमाइट के नाम से भी जाना जाता है और विश्व में बहुत कम स्थानों में मिलता है । भारत में यह हरियाण के चरखी-दादरी स्थानों में पाया जाता है ।

flood basalt

बाढ़ बेसाल्ट/पूर बेसाल्ट :
एक विशाल क्षेत्र में फैला हुआ दरार से उद्गीर्ण संयुक्त संचयी बैसाल्टी लावा । ये क्षैतिज या उपक्षैतिज प्रवाह के रूप में होते हैं । उदाहरणार्थ डेकन ट्रैप ।

flow breccia

प्रवाह संकोणाश्म :
प्रायः अधिसिलिक संघटन वाला एक प्रकार का लावा-स्तर जिसमें विस्फोटन या प्रवाह्यता से उत्पन्न पिंडित अथवा अंशतः पिंडित खंड लावा के गतिहीन तरल भागों द्वारा परस्पर जुड़ या संयोजित हो गए हैं ।

flow texture

प्रवाह गठन :
एक ऐसा गठन जो सूक्ष्मकणिक तथा काचीय आग्नेय शैलों में पाया जाता है । इस गठन में चपटे या प्रिज्मीय खनिज स्तरित प्रवाह अथवा प्रवाह-रेखाओं के प्रभाव से तरंगित या भंवरदार चित्राम (pattern) बनाते हैं ।

fluid cast

तरल संचक :
शैलों के संस्तरण पृष्ठों पर पाई जाने वाली चमकीली गोलाकार अथवा अण्डाकार संरचना ।

fluvial deposit

नदीय निक्षेप :
नदियों या अपेक्षाकृत बड़ी सरिताओं द्वारा निक्षेपित अवसादी निक्षेप ।

fluvio-glacial

सरिताहिमी :
हिमनदी से बहने वाली सरिताओं से संबंधित अथवा इस प्रकार की सरिताओं द्वारा निर्मित निक्षेपों से संबंधित ।

fluvio-marine

नद-समुद्री, नद सागरी :
नदी और समुद्र की संयुक्त क्रिया से निर्मित यथाः-नदियों के मुहानों के निक्षेप ।

fluvio-terrestrial

नदस्थलीय :
स्थल तथा अलवण जलराशियों (freshwater) से संबंधित ।

flysch

फ्लिश :
मुख्यतः किसी पर्वतनिक समुद्री शैल-संहति से संबद्ध एक टेक्टोफेसीज जो प्रायः मार्ल तथा शेलमय अवसादों और कभी-कभी गोलाश्मों तथा कुछ आग्नेय शैलों से निर्मित होता है ।

foliated structure

शल्कित संरचना :
शैलों में विद्यमान एक ऐसी संरचना जो पतली-पतली पट्टियों या पत्रकों द्वारा निर्मित होती है । इस शब्द का प्रयोग क्रिस्टलीय शिस्ट का वर्णन करने के लिए किया जाता है जिसमें खनिज इत्यादि समानांतर, तरंगिल या पतली पट्टियों के रूप में व्यवस्थित होते हैं ।

foliation

शल्कन :
कायान्तरित शैलों में विद्यमान विदलन (cleavage) या शिस्टाभता (schistosity) जैसी समतलीय संरचनाओं को वर्णित करने के लिए प्रयुक्त एक शब्द ।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App