भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Hindi Paribhashik Laghu Kosh (CHD)

Central Hindi Directorate (CHD)

< previous1234567892122Next >

दंग

(वि.)

[फार.] 1. किसी आकस्मिक या अद् भुत को देखकर या बात सुनकर स्तब्ध रह जाता (दंग रह जाना)। 2. आश्‍चर्यचकित, विस्मित। 2. गणेशजी की मूर्ति को दूध पीता देखकर हम दंग रह गए।

दंगई

(वि.) ([.फा.दंगा])

1. दंगा करने वाला, उपद्रवी, झगड़ालू। 2. प्रचंड, उग्र। 3. हिंसक प्रवृत्‍ति वाला वह व्यक्‍ति जो सामूहिक हिंसा के लिए प्रोत्साहित करता हो। उदा. पुलिस ने आज एक दंगई को हिरासत में ले लिया।

दंगाई/दंगई

(वि.) (पु.)

दंगा करने वालों का झुंड।

दंगल पुं

(.फा.)

1. पहलवानों की कुश्ती-प्रतियोगिता। 2. अखाड़ा, मल्लयुद् ध का स्थान। उदा. कल होने वाले दंगल में भारत के कई नामी पहलवानों की कुश्तियाँ होंगी।

दंगा

(पुं.) (.फा.दंगल)

1. बहुत से लोगों द्वारा किसी विवादित विषय को लेकर मचाया गया उत्पाद या तोडफ़ोड़, मारपीट, हिंसा, आदि में बदल जाए। निकटतम पर्या. उपद्रव करना।

दंडनीति

(स्त्री.) (तत्.)

1. अपराधियों, राष्‍ट्रद्रोहियों या शत्रुओं को दंड विधान के द्वारा नियंत्रित करने की शासकीय नीति व्यवस्था। 2. प्राचीन भारत में शासन, न्याय व्यवस्था व राजनीति विषयक विद्या। इसका अंतर्भाव अर्थशास्त्र के अंतर्गत होता था। उदा. राजा द्वारा दंडनीति के पालन से ही राज्य में शांति व स्थिरता रहती है। 3. राजधर्म के चार साधनों में से एक साम, दाम, दंड और भेद ये चार साधन माने गए हैं।

दंडनीय

(वि.) (तत्.)

1. (वह व्यक्‍ति या अपराधी) जो दंड देने के योग्य हो। 2. (वह कार्य) जो शासन की दृष्‍टि से अनुचित हो और उसे करने पर दंड मिले। जैसे: दहेज-उत्पीड़न एक दंडनीय अपराध है।

दंड

(पु.) (तत्.)

1. लकड़ी बाँस आदि का छोटा या बड़ा डंडा, लाठी, सोंटा। जैसे: बूढ़े का डंडा, धवज दड, संन्यासी का दंड आदि। 2. किसी अनुचित कार्य का अपराध के बदले में दी जानेवाली सजा (पिटाई, शारीरिक दंड, जुर्माना, आर्थिक दंड)।

दंड बैठक

(पुं.) (तत्.)

(दंड बैठक तद् > विष्‍टत्.) हाथ-पैरों का एक प्रकार का शारीरिक व्यायाम जिसमें व्यक्‍ति एक निश्‍चित संख्या में बार-बार बैठता और खड़ा होता है। जैसे: वह व्यक्‍ति प्रतिदिन सुबह सौ दंडबैठक लगाता है।

दंडवत [दंड+वत्]

(पुं.) (तत्.)

1. दंड (डंडे) की तरह सीधे जमीन पर लेटकर प्रणाम करने की मुद्रा। साष्टांग प्रणाम। तद् > दंडौत)। 2. प्रणाम।

दंड विधान

(पुं.) (तत्.)

दंड की व्यवस्था, अपराध और दंड के विषय में बनाया गया कानून, दंड विधि। law

दंड विधि

(स्त्री.) (तत्.)

न्यायशास्त्र की वह शाखा जो सिविल विधि के अंतर्गत आने वाले अपराधों से संबंधित है।

दंडसंहिता

(स्त्री.) (तत्.)

विभिन्न प्रकार के अपराधों की परिभाषा देने वाली उन अपराधों के लिए देय दंडों का विवरण देने वाली नियमों की प्रकाशित पुस्तक। (जैसे : भारतीय दंड संहिता penal code

दंडित

(वि.) (तत्.)

(व्यक्‍ति) जिसे दंड दिया गया हो।

दंतकथा

(स्त्री.) (तत्.)

सा.अर्थ. दाँतों (मुख से) कहीं गई कथा। परंपरा से सुनी गई कथा (जिसका प्रामाणिक स्रोत भी हो सकता है और नहीं भी) पर्या. किवदंती legend

दंत सूत्र

(पुं.) (तत्.)

स्तनधारी प्राणियों में ऊपरी और निचले जबड़ों के दाँतों की संख्या बताने की विधि की दृष्‍टि से बांटे गए दाँतों की कुल संख्या का पता चल सके। कृंतक, रद्नक, अग्रचर्वणक और चर्बणक दाँतों को इसी क्रम में रखते हुए मानव में दोनों जबड़ों के एक तरफ के दाँतों का विन्यास इस प्रकार लिखा जाता है: dental formula

दंतुरित तटरेखा

(स्त्री.) (तत्.)

दाँत की आकृति के समान टेढ़ी-मेढ़ी लंबी तट रेखा।

दंपती

(पुं.)

(सं.<दंपति) पति-पत्‍नी का जोड़ा। उदा. नवदंपत्‍ति को भावी जीवन की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ। टि. संस्कृत व्याकरण के अनुसार (द् विवचन होने के कारण 'दंपती' शब्द रूप सही है, न कि 'दंपति' या 'दंपत्‍ति'।

दंभ

(पुं.) (तत्.)

1. मानव के (अनुचित माने जाने वाले कार्य या उद् गार) जिनसे उसका मिथ्या अभिमान प्रकट होता हो; घमंड। उदा. कई लोग अपने कुल की बातें दंभपूर्वक करते हैं।
< previous1234567892122Next >

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App