भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Mechanical Engineering (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

शब्दकोश के परिचयात्मक पृष्ठों को देखने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें
Please click here to view the introductory pages of the dictionary

Firm

फर्म
इसके एक या अधिक मालिक होते हैं। एक फर्म के उत्पादन कई प्रकार के हो सकते हैं। एक ही प्रकार के उत्पादन वाली कई फर्म मिलकर एक इण्डस्ट्री बनती है।

Fit

फिट
इसके द्वारा दो मेल के अवयवों के मध्य एक संबंध व्यक्त किया जाता है कि समन्वायोजन में कब व्यक्तिकरण होगा और कब अवकाश।

Fit, clearance

अवकाश फिट
मेलक अवयवों के मध्य एक प्रकार की फिट। इसमें साइज की सीमा इस प्रकार निर्धारित की जाती है कि असैम्बली मे हमेशा अवकाश रहता है।

Fit, compound

संयुक्त फिट
यह एक प्रकार की संकुचन – फिट है इसमें बाहरी अवयव को उच्च ताप पर गर्म करके प्रसारित किया जाता है तथा आन्तरिक अवयव को अति-निम्न ताप पर ठंडा करके संकुचित करना पड़ता है।

Fit, force

बल – फिट
यह एक प्रकार की फिट है जिसमें से बाह्य अवयव का व्यास मादा (आन्तरिक) अवयव के व्यास से कुछ बड़ा होता है। इसमें बाहरी अवयव को धकेला जाता है इस फिट के लिये अत्याधिक बल की आवश्यकता पड़ती है। कार के धुरे एवं पहिये इस फिट के सांकेतिक उदाहरण है धुरे को पहिये के छिद्र में धकेलने के लिये द्रवीय – दबित्रों का उपयोग किया जाता है अतः इसे दाब-फिट भी कहते हैं।

Fit, free

मुक्त फिट/मुक्त अन्वायोजन
इस प्रकार की फिट में अन्वायोजित अवयव आसानी से घूम सकते हैं। इसे धावन फिट भी कहते हैं। इस प्रकार की फिट में चाल 600 चक्रण प्रति मिनट या अधिक और सामान्य दाब 600 पाउंड प्रति वर्ग मीटर या अधिक रहता है।

Fit, interference

व्यतिकरण फिट
एक प्रकार की फिट, जिसमें मेलक अवयवों के लिये सीमाएँ इस प्रकार रखी जाती है कि समान्वायोजन के समय एक अवयव को दूसरे अवयव के पास लाने पर हमेशा व्यक्तिकरण विद्यमान रहता है।

Fit, loose

श्लघ फिट, श्लघ अन्वायोजन
इस फिट में काफी आजादी रहती है और इसमें कई प्रकार की फिटें आती हैं जहाँ परिशुद्धि यथार्थता आवश्यक नहीं है।

Fit, medium

मध्यम फिट
यह भी मुक्त फिट है इसमें चाल 600 पाउंड प्रति वर्ग मीटर से कम रहती हैं। सर्पी फिट तथा बहुत यथार्थ मशीन औजार और स्वचल अवयवों में बी इस फिट का उपयोग होता है।

Fit, tight (slight negative fit)

संकृष्ट फिट / अन्वायोजन (तनिक ऋणात्मक फिट)
इस प्रकार की फिट को समन्वायोजित करने के लिये हल्के दाब की आवश्यकता पड़ती है तथा अवयव कम या अधिक स्थायी तौर पर समन्वायोजित किया जाता है। जैसे गरारी के लिये स्टड का बद्ध सिरा।

Fit, transition

संक्रमण फिट/संक्रमण अन्वायोजन
मेलक अवयवों के मध्य फिट, जिसमें साइज, सीमाएँ इस प्रकार निर्धारित की जाती है कि वे आंशिक या पूर्ण रूपेण परस्पर व्याप्त रहती है कि अन्वायोजन के समय व्यतिकरण और अवकाश दोनों में से कोई भी हो सकता है।

Fit, wringing (zero to negative allowance)

ससंजन फिट (शून्य से ऋणात्मक छूट)
इस प्रकार की फिट में समन्वायोजन मे मेलक अवयवों की पृष्ठें एक दूसरे से सही रहती है। प्रायः यह असैम्बली विशिष्ट होती है और अंतर्विनियम नहीं है।

Fitting shop

फिटिंग शाला
वह कार्यशाला, जहाँ पर विभिन्न पुर्जों को एक दूसरे के साथ फिट किया जाता है।

Fixed automation

निहित स्वचालन
वह तन्त्र जिसमें विभिन्न संक्रिया अनुक्रम स्वचालित एवं पूर्ण निर्धारित होते हैं।

Fixed cost

स्थिर लागत
उत्पाद संख्या पर निर्भर न रहने वाली लागत जिसमें मशीनरी मूल्य ह्रास, उपस्करों और भवनों की लागत पर ब्याज, बीमा खर्च तथा इंजीनियरी फीस आदि सम्मिलित हैं।

Fixture

स्थायिक/फिक्चर
(1) एक युक्ति जो उत्पादन की प्रक्रिया में जॉब / कृत्यक को धारण करती है लेकिन औजारों को निर्देशित नहीं करती।
(2) फिक्चर/स्थायिक का कार्य मशीनित किये जाने वाले अनेक प्रकार के कृत्यों को मशीन मंच पर बांधे रखना है उसका औजार पर कोई नियंत्रण नहीं। आजकल इसे जिंक के स्थान पर इस्तेमाल करने लगे हैं। स्थायिक को मशीन मंच पर बांधा जाता है जबकि जिंक को हाथ से पकड़ा जा सकता है और इच्छानुसार चलाया भी जा सकता है।

Flame cutting

ज्वाला कर्तन
ज्वाला कर्तन में ऑक्सी – ऐसिटीलीन टॉर्च के द्वारा लोह धातुओं का कर्तन किया जाता है। इसमें काट की प्रारम्भिक अवस्था में दोनों गैसों का प्रयोग किया जाता है लेकिन प्रारम्भिक काट के बाद एसिटिलीन की सप्लाई बंद कर दी जाती है तथा केवल आक्सीजन की सप्लाई रहने दी जाती है। 12″ या और अधिक गहराई के कर्तन में जलन से धातु का ह्रास बहुत कम हो पाता है क्योंकि काट चौड़ाई 6″ गहराई के काट पर अधिक से अधिक 3″ रहती है।”

Flame hardening

ज्वाला कठोरीकरण
यह एक स्थानिक कठोरीकरण की विधि है इसमें कठोरित किये जाने वाले अवयव को आक्सी एसिटीलीन टार्च द्वारा गर्म करके शीतक माध्यममें मज्जशीतित किया जाता है।

Flange

फ्लैंज
पर्शुका या रिम जिसकी सहायता से दो वस्तुएँ बांधी जाती है।

Flank

पार्श्व
अन्तराल वृत के नीचे वाली दन्त की पृष्ठ को पार्श्व कहते हैं।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App