भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Mechanical Engineering (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

शब्दकोश के परिचयात्मक पृष्ठों को देखने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें
Please click here to view the introductory pages of the dictionary

Chuck

चक
1. विभिन्न प्रकार की मशीनों में कार्य को पकड़ने का एक उपसाधन। चक को मशीन के तर्कु पर बांधा जाता है और यह ड्रिल, कर्तन औजार या कार्य को पकड़ने रखने के काम आता है।
2. मशीन तर्कु पर लगाये जाने वाली कृत्यक या औजार धारक युक्ति।

Chuck, driver

चालक चक
मेंड्रिल पर आरोपित यह एक नोकदार चक होता है जिसका उपयोग खरादन हेतु खराद – केन्द्रकों के मध्य बंधे कार्य को चलने के लिये किया जाता है।

Chuck, electromagentic

विद्युत – चुम्बकीय चक
इस चक की पृष्ठ में एक के बाद एक छोड़कर इस्पात की इलैक्ट्रोड लगी होती हैं जिनको विद्युत रोधी सामग्री से अलग किया जाता है इन इलैक्ट्रोडों को विद्युत – चुम्बकों से ध्रुवित किया जात है ताकि हल्के सपाट कृत्यक को अपघर्षी मशीन या अन्य मशीन टूल को टेबिल पर मजबूती से पकड़ सके। यह चक केवल इस्पात या लोहे के अवयवों को पकड़ने के काम आता है। इस चक मे दिष्ट धारा विद्युत की आवश्यकता पड़ती है।

Chuck, collet

कालेट चक
इस चक को निर्दिष्ट – व्यास वाले फिनिश हुये कृत्यक को पकड़ने के काम में लाया जाता है यही चक विभिन्न साइज के कालेट को भी धारण कर सकता है ताकि इन कालेटों में विभिन्न व्यासों को फिट किया जाता सके। कृपया चित्र -12 देखें।

Chuck, cup

चषक चक
यह एक खोखला बेलनाकार चक होता है जो कि मेड्रल के मुख पर पेंच द्वारा बंधा होता है। इसमें प्रायः छोटे कृत्यक बांधे जाते हैं। चक की भित्ति में लगे पेंचों द्वारा कृत्यक को कस दिया जाता है।

Chuck, draw

कर्ष चक
इस चक में जबड़ों को चलाने के लिये शुंडाकार बेयरिंग मे उनको अनुदैर्ध्य दिशा में खींचा जाता है। अधिकतर उन्हें कॉलेट के नाम से भी पुकारा जाता है तथा इनका उपयोग एकदम सही कृत्यक के लिये किया जाता है।

Chuck, driving

चालन चक
खराद – चालन प्लेट, इसमें स्लॉट / खांचे बने होते हैं। कृत्यक को पकड़ने के लिये इन स्लॉटों में कुत्तों को फंसा दिया जाता है।

Chuck, expanding

प्रसारी चक
यह चक प्रसार द्वारा खोखले कृत्यक को अन्दर से पकड़ लेता है।

Chuck, four jaw independent

चार – जबड़ा स्वतंत्र चक
इस चक में चार जबड़े लगे होते हैं तथा प्रत्येक जबड़े को स्वतंत्र रूप से कुण्जी द्वारा चलाया जाता है ताकि असम्मित कृत्यक का केन्द्रीकरण सही किया जा सके।

Chuck, oval

अण्डाकार चक
विशेष प्रकार का एक खराद चक, जिसकी सहायता से कार्य को औजार से दूर या औजार की ओर इस प्रकार चलाया जाता है जिससे कृत्यक अण्डाकार बन जायें। बड़े एवं लघु व्यास की स्थिति को परिवर्तित किया जा सकता है। इस चक में उत्केंद्रता को वर्म पहिया एवं स्पर्शी पेंच द्वारा नियंत्रित किया जाता है।

Chuck, permanent magnetic

स्थायी – चुम्बकीय चक
इस चुम्बकीय – चक में स्थायी चुम्बक इसके आधार में लगे होते हैं तथा सर्पी अंतरको की सहायता से उन्हें चक की उपरि पृष्ठ में पृथक रखा जाता है। ये अन्तरक चालकों, चुम्बकीय ब्लॉक और विद्युतरोधको की एकान्तर कतारों से बने होते हैं। इन चकों का प्रयोग मशीन टूल को टेबल पर बंधे हल्के सपाट कार्य को पकड़ने में किया जाता है। हस्त चालित लीवर की सहायता से अन्तरको को चलाकर कार्य – खण्ड को मुक्त किया जाता है। जिससे विद्युत रोधक एक रेखा में आ जाते हैं और इस प्रकार चुम्बकीय फ्लक्स को पृष्ठ तक पहुँचने से रोक देते हैं।

Chuck, self centrering

स्वतः केन्द्रीकरण चक
यह एक खराद चक है जिसमें प्रायः तीन जबड़े होते हैं। केवल एक पेंच के घुमाने से तीनों जबड़े साथ – साथ खुलते और बंद होते हैं। स्क्रॉल / सर्पिल की सहायता से तीनों जबड़ों को अन्दर और बाहर किया जा सकता है। चूंकि प्रत्येक जबड़ा ठीक एक जैसी दूरी चलता है अतः इस चक में कार्य को आसानी से एवं सही – सही बांधा जा सकता है लघु साइज वाले कार्यों के लिये यह चक बहुत उपयोगी है। भारी कार्यों में इन चकों की स्क्रॉल अक्सर टूट जाती है। अतः इनका उपयोग भारी कार्यों में नहीं करना चाहिए। इस चक को स्क्रॉल चक या सार्विक – चक भी कहते हैं।

Chuck, vacuum

निर्वात चक
इस प्रकार के चक में सपाट या प्ररूपित चादर – धातु निर्मित कार्य को पकड़ा जाता है। पकड़ने के लिये इसमें किसी भी प्रकार के शिंकजे की आवश्यकता नहीं पड़ती है। इसकी कार्य – पृष्ठ बहुछिद्री होती है जिस पर मशीन हेतु कार्य को पृष्ठ से सटाकर रखा जाता है इसमें एक रेचक – पंप लगा होता है जो चक से सम्पूर्ण वायु निकाल देता है और इस प्रकार कार्य को जकड़ कर पकड़े रहता है।

Chucking

चकीकरण
खराद – चक पर कृत्य को बांधना। कुशल एवं सही चकीकरण एक कला है।

Chucking machine

चक – मशीन
इस मशीन में कार्य को केन्द्रकों के मध्य न बाँधकर चक में बांधा जाता है और चक ही कार्य को चलाता है।

Circular pitch

वृतीय अन्तराल
अन्तराल वृत पर दो क्रमिक व संगत बिन्दुओं के बीच की वक्र दूरी।

Clamp

क्लैम्प / शिकंजा
(1) एक ऐसी युक्ति जो वस्तुओं को यथास्थान रखने के लिये प्रयोग की जाती है।
(2) पुर्जें को अस्थायी तौर पर पकड़ने की एक युक्ति इसमें दो जबड़े होते हैं एक जबड़ा चल और दूसरा अचल रहता है। पेंच की सहायता से इन जबड़ों को साथ – साथ सैट किया जा सकता है। ये शिकंजे कई रूपों में उपलब्ध हैं लेकिन पेच – क्लैम्प अधिक प्रचलित है। कैम और लीवर की सहायता से भी क्लैम्प को सैट किया जा सकता है।

Clamping mechanism

बंधक यंत्रावली / ग्राभक यंत्रावली
अवयवों को अपने स्थान पर बाह्य बलों के प्रतिकूल जकड़कर रखने वाला साधन।

Clearance

मुक्तांतर / अवकाश
दो आसन्न अथवा उपागमी अवयवों के बीच अन्तराल।

Clearance volume

अवकाश आयतन
सिलिण्डर शीर्ष और पिस्टन के मध्य न्यूनतम आयतन।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App