भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Mechanical Engineering (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

शब्दकोश के परिचयात्मक पृष्ठों को देखने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें
Please click here to view the introductory pages of the dictionary

Carburizing

कार्बन व्यापन / कार्बुरीकरण
1. एक निम्नकार्बन इस्पात के पृष्ठ कठोरीकरण की प्रक्रिया। इसमें इस्पात को कार्बनमय पदार्थ के सम्पर्क मे उच्च क्रान्तिक ताप से अधिक पर गर्म करके द्रुतशीतित किया जाता है। इससे सतह में कार्बन की प्रतिशत मात्रा बढ़ जाती है तथा कठोर हो जाती है।
2. पृष्ठ कठोरीकरण की वह विधि जिसमें निम्न कार्बन इस्पात के पृष्ठ पर कार्बन की मात्रा बढ़ाई जाती है। इसमें इस्पात को कार्बनमय पदार्थ के सम्पर्क में लगभग 700% पर अपेक्षित अवधि तक गर्म किया जाता है।

Carpentry shop

काष्ठ शाला
वह कार्यशाला जिसमें काष्ठ से सम्बन्धित कार्य किया जाता हैं।

Carrage

यान
खराद मशीन में औजार को गति देने वाली युक्ति।

Carriage spring

यान कमानी
एक प्रत्यास्त युक्ति, जो प्रायः विभिन्न लम्बाई की वक्राकार इस्पात प्लेटों से बनी होती है। यह वाहन की तली और चल गरारी के मध्य लगी होती है।

Case

कोष्ठ / केस
निम्नकार्बन इस्पात का कटोरीकृत पृष्ठ।

Casing

कोष (पम्प)
पम्प का बॉडी, जिसके अन्दर पम्प के आन्तरिक अवयव आवृत रहते हैं।

Cast iron

ढलवाँ लोहा
1. यह कच्चे लोहे से बनाया जाता है। समें कार्बन अंश की मात्रा 2 से 5 प्रतिशत तक होती है और यह ढाला जा सकता है।
2. एक लौह – कार्बन मिश्रधातु जिसमें कार्बन की प्रतिशत मात्रा 1.8 से 4.3 तक होती है।

Casting

ढलाई, ढालना / संचकन
1. साँचे में पिघली धातु को उढ़ेलना।
2. संचकन से उपलब्ध उत्पादन को भी ढलाई कहते हैं।

Cavitation

कोटरण
किसी संवृत (बंद ) नलिका में जब किसी बिन्दु, पर जल का निरपेक्ष दाब जल के वाष्प दाब से कम हो जाता है (प्रवाहित जल के तापमान पर) तो जल से वाष्प निकलने लगती है और वह उबलने लगता है तथा इस लघु दाब क्षेत्र मे बुलबले निर्मित हो जाते हैं। इस क्रिया को कोटरण कहते हैं।

Cavities

कोटरिकायें
कोटरण क्रिया में जो बुलबुले उत्पन्न होते हैं उन्हें कोटरिकायें कहते हैं।

Centre gauge

केन्द्रक प्रमापी
चादर धातु से निर्मित प्रमापी, खराद कार्य में चूड़ी काटने वाले औजारों को संरेखित करने के काम आते हैं। इसमें एक 60 अंश कोण का शंक्वाकार सिरा तथा 60 अंश कोण के दो खांचे / नांच होते हैं जैसा कि चित्र में दिखाया गया है। सिरे वाले खांचे का इस्तेमाल कभी—कभी चूड़ी काटने वाले औजार को अचल केन्द्रक की कोणीयता के सापेक्ष सैट करने में किया जाता है। आन्तरिक चूड़ियों के लेय प्रमापी का प्रयोग चित्र 6 के अनुसार किया जाता है।

Centre of buoyancy

उत्प्लांवकता केन्द्र
तरल में प्लवमान किसी पिण्ड पर परिणामी या उत्प्लावक बल का क्रिया बिन्दु।

Centre of pressure

दाब केन्द्र
डूबी हुई पृष्ठ के जिस बिन्दु पर परिणामी बल कार्य करता है उसे दाब – केन्द्र कहते हैं .

Centre punch

केन्द्र – पंच
यह एक इस्पाती नुकीला औजार है जिससे बरमाई – कार्य आदि के लिये केन्द्र रेखाएँ,या केन्द्र चिंहित किये जाते हैं। कृपया चित्र – 7 देखें।

Centre, bull

बृहत केन्द्रक
एक पूरक खराद केन्द्रक, इसे नियमित केन्द्रक पर आरोपित किया जाता है। खोखले कार्य जैसे नल, पाइप इसके ऊपर आरोपित करके खरादे जाते हैं। कृपया चित्र 8 देखें।

Centre, dead

अचल केन्द्रक
खराद केन्द्रक, जिसे टेलस्टॉक में लगाते हैं। इसका शंक्वाकार सिरा कार्य को टेक प्रदान करता है तथा कार्य के साथ घूमता नहीं है।

Centre,live

चल केन्द्रक
खराद मशीन या अन्य मशीन के घूमते तर्कु में आरोपित केन्द्रक को चल केन्द्र कहते हैं सभी चल केन्द्रक कार्य के साथ घूमते हैं ताकि घूमता कार्य केन्द्रतेर न हो सके।

Centreless grinding.

अकेन्द्र अपघर्षण
बेलनाकार कृत्यांशों को केन्द्र पर पकड़े बिना अपघर्षण द्वारा मशीनन।

Centrifugal clutch

अभिकेन्द्री ग्राभ
यह एक घर्षण ग्राभ है जो चालक अवयव की एक निश्चित चाल पर स्वतः ही संपर्क पकड़ लेता है तथा उसमें लगे भारी लीवरों से जनित अपकेन्द्री बलों की सहायता से संपर्क बनाये रखता है।

Centrifugal head

अपकेन्द्री दाबोच्चता
अपकेन्द्री पम्प के अन्दर जल के भ्रमित होने से जल कणों मेंजो दाबोच्चता बनती है उसे अपकेन्री दाबोच्चता कहते हैं।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App