भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Rajaneetivijnan Paribhasha Kosh (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

शब्दकोश के परिचयात्मक पृष्ठों को देखने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें
Please click here to view the introductory pages of the dictionary

Whitleyism

व्हिटलेवाद (मुख्यतः इंग्लैंड में) विशाल उद्योग-धंधों में श्रमिकों के वेतन, कार्य के घंटे तथा अन्य दशाएँ निर्धारित करने और मालिकों व श्रमिकों के बीच विवाद के अन्य विषयों का निपटारा करने के लिए दोनों पक्षों के संयुक्त मंडलों अथवा परिषदों का संगठन करने में आस्था रखने का सिद्धांत।

Winter session

शीतकालीन सत्र शीत ऋतु में होने वाला संसद का अधिवेशन, बैठक या सभा। भारत संसदीय नियमावली के अनुसार वर्ष में संसद की तीन बैठकें होती हैं – बजट अधिवेशन, मानसून अधिवेशन और शीतकालीन अधिवेशन।

Withering away of the state

राज्य का क्रमिक अवसान, राज्य का अपक्षय मार्क्सवादी विचारधारा के अनुसार, समाज में पूँजीपतियों एवं श्रमिकों के निरंतर संघर्ष के परिणामस्वरूप राज्य के अंततः क्षय, नष्ट अथवा समाप्त हो जाने की स्थिति जिसके पश्चात् एक ऐसे वर्गीविहीन समाज की स्थापना होगी जिसे मार्क्स ने साम्यवादी समाज कहा है।

Wobbly

वोबली, विश्व-मजदूर इंडस्ट्रियल वर्क्स् ऑफ द वर्ल्ड (विश्व औद्योगिक श्रमिक) नामक संस्था का सदस्य।

Women suffrage

महिला मताधिकार नारियों द्वारा प्राप्त तथा प्रयोग में लाया गया मताधिकार अथवा राजनीतिक निर्वाचनों में वोट देने का अधिकार। ब्रिटेन में यह अधिकार सबसे पहले 1918 में दिया गया जिसमें महिलाओं के लिए तीस वर्ष की आयु निर्धारित की गई। किंतु 1928 में यह आयु-भेद भी समाप्त कर दिया गया। भारतीय संविधान में स्त्री-पुरुषों को समान रूप से यह अधिकार प्राप्त है और मताधिकार के लिए निर्धारित आयु 18 वर्ष है।

Workers’ movement

श्रमिक आंदोलन, कामगार आंदोलन उद्योगों तथा कारखानों के श्रमिकों और कामगारों द्वारा अपने राजनीतिक अधिकारों तथा वेतन और काम की दशाओं में सुधार लाने और अन्य प्रकार से श्रमिकों के हितों की अभिवृद्धि करने के लिए संचालित संगठनात्मक अभियान अथवा संघर्ष।

Working committee

कार्यसमिति, कार्यकारिणी किसी दल या संगठन की कार्यकारी अथवा निर्णय लेने वाली उच्चाधिकार प्राप्त समिति, जैसे भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की कार्य समिति। इस समिति को ही हाई कमान कहा जाता है।

World citizen

विश्व नागरिक वह व्यक्ति जो अपने आचार-विचार, रहन-सहन, क्रियाकलापों के कारण किसी राज्य-विशेष का ही नहीं बल्कि समस्त विश्व का नागरिक माना जाता है। “विश्व नागरिक” की संकल्पना वास्तव में एक आदर्शवादी अथवा भावनापूर्ण संकल्पना है। अंतर्राष्ट्रीय समाज द्वारा जब तक आधुनिक राज्यों के अस्तित्व को समाप्त कर समस्त विश्व का एक राज्य के रूप में सुसंगठन नहीं किया जाता तब तक “विश्व नागरिक” की संकल्पना को यथार्थता अथवा वास्तविकता में परिवर्तित नहीं किया जा सकता है।

World community

विश्व समुदाय विश्व के सभी राज्यों में आपस में सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक तथा जीवन के अन्य क्षेत्रों में इतना घनिष्ठ एवं सतत संसर्ग होना और उसके परिणामस्वरूप उनके सामान्य हितों का विकास होना कि इन राज्यों के पारस्परिक संयोग को एक समुदाय की संज्ञा दी जा सके। आज विश्व के 160 से भी अधिक राज्य इसी अवस्था में पहुँच गए हैं। अतः आज विश्व- समुदाय की संकल्पना साकार हो गई है।

World conference

विश्व सम्मेलन किसी विषय-विशेष से संबंधित पारस्परिक विचार-विमर्श के लिए विश्व के विभिन्न राज्यों के प्रतिनिधियों की सभा, परिषद् अथवा समागम।

World convention

विश्व सम्मेलन विश्व की सामान्य समस्याओं अथवा सामान्य हितों के प्रश्नों पर विचार-विमर्श करने के लिए आयोजित राज्य-प्रतिनिधियों की औपचारिक सभा या सम्मेलन।

World Court

विश्व न्यायालय वह (अंतर्राष्ट्रीय) न्यायालय जिसका अधिकार-क्षेत्र विश्व के उन सभी राज्यों तक विस्तृत होता है जो उस न्यायालय के विधान (स्टेटयूट) को स्वीकार करते हैं। इस न्यायालय का संगठन इस विधान द्वारा ही निर्धारित किया जाता है। इसमें विश्व की सभी प्रधान विधि प्रणालियों के प्रतिनिधि-सदस्य न्यायाधीश होते हैं। इस प्रकार के न्यायालय की स्थापना सर्वप्रथम 1919 में की गई जिसका नाम “स्थायी अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय” रखा गया। दूसरे महायुद्ध के उपरांत इसका स्थान वर्तमान “अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय” ने लिया है जो हेग (हालैंड) में स्थित हैं। इसमें 15 न्यायाधीश हैं जिनका निर्वाचन सुरक्षा परिषद् की सिफारिश पर महासभा द्वारा किया जाता है।

World federalist

विश्व संघवादी 1. विश्व संघवाद का समर्थक अथवा अनुगामी। 2. द्वितीय महायुद्ध के पश्चात् संचालित एक आंदोलन का सदस्य जो विश्व के विभिन्न राष्ट्रों के संघ का गठन किए जाने के सिद्धांत का समर्थन करता था परंतु अब यह आंदोलन लगभग समाप्त हो गया है। वैसे भी इसका कोई विशेष महत्व या प्रभाव कभी नहीं रहा।

World federation

विश्व संघ राज्यों का विश्वव्यापी आधार पर बनाया गया संगठन या संघ जिसमें राष्ट्रीय राज्यों की स्थिति संघांतर्गत इकाइयों की होगी। इस प्रकार के विश्व संघ की संकल्पना समय-समय पर अनेक विद्वानों और दार्शनिकों ने की है। (स्वभावतः इनके द्वारा प्रस्तुत रूपरेखाओं में काफी अंतर पाया जाता है)।

World imperium

विश्व सर्वोच्च सरकार, विश्व (की) परम सत्ता 1. (अ) समस्त विश्व में विस्तृत, व्याप्त सर्वोत्कृष्ट अथवा पूर्ण-स्वामित्व संपन्न संप्रभुता। (आ) वह समस्त विश्व व्यापक क्षेत्र जिसमें इस प्रकार की शक्तियों का प्रयोग किया जाता है। 2. (अ) विश्व के सभी प्रदेशों में अलग-अलग आदेश देने अथवा उन पर नियंत्रण स्थापित करने का अधिकार। (आ) रोम की विधि के अंतर्गत, विश्व के सभी क्षेत्रों अथवा प्रदेशों से विभिन्न प्रकार के मामलों की सुनवाई करने तथा उन पर अपना निर्णय करने का अधिकार।

World order

विश्व व्यवस्था ऐसी व्यवस्था जो विश्वव्यापी कही जा सके, अर्थात् जो राष्ट्रीय राज्यों की अलग-अलग व्यवस्थाओं से सर्वोपरि हो और जिसका किसी भी राष्ट्रीय व्यवस्था द्वारा उल्लंघन अवैध एवं अनुचित माना जाए और जो राज्यों की सहमति पर आश्रित न होकर उससे स्वतंत्र हो, उदाहरणार्थ, विश्व विधिक व्यवस्था (world legal order)।

World organization

विश्व संगठन ऐसी विश्वव्यापी संस्था या संघ जिसकी सदस्यता सभी राज्यों के लिए खुली हो, जैसे विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO), विश्व श्रम संगठन (ILO) आदि।

World power

विश्व शक्ति ऐसा राज्य या राष्ट्र जिसमें अपनी नीतियों, संसाधनों, सैन्य शक्ति अथवा कार्यक्रमों से विश्व के अन्य राज्यों अथवा समस्त विश्व को प्रभावित करने की क्षमता हो।

World revolution

विश्व क्रांति वह क्रांति या विप्लव जिसका लक्ष्य विश्व के सभी देशों में बल-प्रयोग द्वारा सामाजिक, आर्थिक एवं राजनीतिक व्यवस्था में आधारभूत परिवर्तन लाना हो। विश्व-क्रांति की परिकल्पना मार्क्सवादी विचारधारा में की गई है। इसके अनुसार विश्व के सभी राज्यों के समस्त श्रमिक – वर्ग को संगठित होकर हिंसात्मक साधनों द्वारा पूँजीवादी राज्य व्यवस्था को उखाड़ फेक देना चाहिए। परंतु धीरे-धीरे मार्क्सवादियों ने विश्व क्रांति के लक्ष्य का त्याग कर शांतिपूर्ण सह- अस्तित्व के आदर्श को स्वीकार कर लिया।

World socialism

विश्व समाजवाद विश्व के राज्यों व क्षेत्रों में व्याप्त समाजवादी व्यवस्था। विश्व-समाजवाद की कल्पना कार्ल मार्क्स की विविध रचनाओं में विशेषकर “कम्युनिस्ट मैनीफेस्टों” (1848 में प्रकाशित) तथा “दास कैपिटल” (1870 में प्रकाशित) में दृष्टव्य है। मार्क्स के अनुसार श्रमिक-वर्ग तथा पूँजीपति-वर्ग के अनिवार्य पारस्परिक संघर्ष के परिणामस्वरूप अंततः श्रमिक-वर्ग की विजय होगी और समाजवाद विश्व के किसी एक क्षेत्र-विशेष तक सीमित न रहकर समूचे विश्व में व्याप्त हो जाएगा।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App